legendary-actor-dilip-kumar-passed-away

RIP Dilip Kumar: जब नवाज शरीफ को दिलीप कुमार ने लगाई फटकार

मनोरंजन, मुख्य समाचार

Updated on: July 07, 2021,

ट्रेजडी किंग दिलीप कुमार आज हमारे बीच नहीं रहे। लंबे समय से बीमार चल रहे दिलीप कुमार ने मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में 98 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस ली। मौजूदा पाकिस्तान के पेशावर में जन्मे दिलीप कुमार भारत के ही नहीं बल्कि दुनिया भर के चहेते अभिनेता थे। दिलीप कुमार का जन्म स्थान भले ही आज पाकिस्तान की सरहद के भीतर हो, लेकिन दिलीप साहेब का दिल हिंदुस्तान में बसता था।

पाकिस्तान की हरकतों से दिलीप बेहद नाराज़ थे, लेकिन 1999 में जब पाकिस्तान ने कारगिल में भारत पर हमला किया तो उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया था। इससे जुड़ा एक किस्सा काफी चर्चित भी हुआ था। दरअसल दिलीप कुमार की भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से गहरी दोस्ती थी। 1999 में कारगिल युद्ध के बाद एक बार नवाज शरीफ से बात करते वक्त वाजपेयी ने अचानक फोन अपने पास ही बैठे दिलीप कुमार को थमा दिया था। फिर क्या था दिलीप कुमार ने नवाज शरीफ को जमकर फटकार लगा दी। उन्होंने शरीफ को शराफत में रहने की सलाह दे डाली।

पाक के विदेश मंत्री ने अपनी किताब में किया है जिक्र

नवाज शरीफ और दिलीप कुमार के बीच हुई इस गर्मागर्मी का जिक्र पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद कसूरी ने अपनी किताब ‘नाइदर अ हॉक नॉर अ डव’ में भी किया था। किताब के मुताबिक, एक दिन नवाज शरीफ के पास भारत के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की ओर से फोन आया। वाजपेयी ने नवाज शरीफ से कहा कि ‘मुझे आपने लाहौर बुलाया। गले मिलकर स्वागत किया और अब देश के साथ ऐसा कर रहे हैं।’

अचानक थमा दिया दिलीप कुमार को फोन 

नवाज शरीफ को वाजपेयी के इन शब्द बाणों का जवाब नहीं सूझा तो उन्होंने कहा कि ‘आप किस बारे में बात कर रहे हैं मैं आपकी बात आर्मी चीफ से करवाता हूं।’ नवाज शरीफ फोन काटते इससे पहले ही वाजपेयी ने उनसे कहा कि ‘मुझे आपसे किसी की बात करवानी है।’ अटल बिहारी वाजपेयी ने फोन दिलीप कुमार को थमा दिया। उस वक्त दिलीप कुमार वहीं थे। दिलीप कुमार की बातें सुनकर नवाज शरीफ भी हैरान रह गए।

दिलीप कुमार ने खूब लगाई फटकार 

फोन पर दिलीप कुमार ने नवाज शरीब को खूब खरी खोटी सुनाते हुए कहा कि ‘साहब आप हमेशा भारत-पाकिस्तान के बीच शांति के मुद्दे पर अडिग रहे हैं आप ऐसा करेंगे ऐसी उम्मीद नहीं थी। दोनों देशों के बीच के तनाव के चलते भारत में मुसलमान अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रहा है। ऐसे हालातों से निपटने के लिए कुछ कीजिए।’

Leave a Reply