usha-thakur

MP में ईसाई मिशनरी के अवैध कब्जे से मुक्त कराई गई जमीन पर बन रही गौशाला: उषा ठाकुर

प्रदेश, मध्य प्रदेश, मुख्य समाचार

LAST UPDATED : 

इंदौर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की संस्कृति और अध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर (Usha Thakur) ने शनिवार को कहा कि इंदौर जिले के खुर्दा क्षेत्र में ईसाई मिशनरी (Christian Missionary) के कथित अवैध कब्जे से मुक्त कराई गई 70 बीघा जमीन पर आंगनबाड़ी और गौशाला बनाई जा रही है. ठाकुर ने यहां संवाददाताओं को बताया, ’खुर्दा क्षेत्र में ईसाई मिशनरी के अवैध कब्जे से 70 बीघा जमीन मुक्त कराई गई है जिस पर आंगनबाड़ी बनाई जा रही है. इस जमीन पर गौशाला भी बनाई जा रही है जिसे महिलाओं के एक स्वयंसहायता समूह को सौंपा जाएगा.’

गौरतलब है कि खुर्दा क्षेत्र उस महू विधानसभा सीट का हिस्सा है जिसकी ठाकुर विधानसभा में नुमाइंदगी करती हैं. मंत्री ने एक सवाल पर दावा किया कि देश में समान नागरिक संहिता लागू होने की प्रार्थना के साथ हजारों हिंदू महिलाएं साल में एक बार व्रत रखती हैं. उन्होंने कहा, ’मुझे लगता है कि प्रभु इन व्रती महिलाओं की प्रार्थना स्वीकार करेंगे और भारत में समान नागरिक संहिता शीघ्र ही लागू होगी जो देश की एकता, अखंडता और अस्मिता के लिए सबसे अनिवार्य शर्त है.’

अपशिष्ट फेंके जाने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है
उन्होंने यह भी बताया कि इंदौर जिले में अजनार नदी के पास हानिकारक रसायनों वाला औद्योगिक अपशिष्ट फेंके जाने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है और विस्तृत जांच के जरिये पता लगाया जा रहा है कि यह अपशिष्ट किन कारखानों से लाया गया था? ठाकुर ने बताया कि अजनार नदी और इसके आस-पास के प्रदूषित क्षेत्र को एक निजी अपशिष्ट निवारण कंपनी की मदद से प्रदूषणमुक्त किया जा रहा है. अधिकारियों ने बताया कि लम्बे समय से औद्योगिक अपशिष्ट फेंके जाने के कारण न केवल अजनार नदी का पानी प्रदूषित हो गया है, बल्कि आस-पास के भूमिगत जल स्रोतों से भी प्रदूषित पानी निकल रहा है. बता दें कि उषा ठाकुर शिवराज सिंह की सरकार ने हिन्दू वादी नेता के रूप में मानी जाती है.

Leave a Reply