chhattisgarh-minister-ts-singhdev

पंजाब के बाद छत्तीसगढ़ में हलचल हुई तेज, टी एस सिंहदेव दिल्ली रवाना

अन्य प्रदेश से, प्रदेश, मुख्य समाचार

LAST UPDATED : 

रायपुर. पंजाब कांग्रेस में उठे सियासी बवंडर (Political Storm) के बाद अब राजस्थान के साथ ही छत्तीसगढ़ में भी राजनीतिक हलचल तेज हो गई है. छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव (Health Minister TS Singhdeo) आज सुबह अचानक दिल्ली के लिये रवाना हुये. टी एस सिंहदेव के दिल्ली जाने के कार्यक्रम से प्रदेश के राजनीतिक गलियरों में चर्चाओं का सिलसिला भी तेज हो गया है. हालांकि तमाम राजनीतिक कयासों के बीच मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि वे बहन के जन्मदिन में शामिल होने के लिये दिल्ली जा रहे हैं. यह उनका कोई राजनीतिक दौरा नहीं है.

छत्तीसगढ़ में भी सीएम की कुर्सी को लेकर कांग्रेस में अंदरखाने चल रही कलह अब किसी से छिपी हुई नहीं है. गत माह सीएम भूपेश बघेल, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पीएल पुनिया और टीएस सिंह देव की दिल्ली में राहुल गांधी के साथ मैराथन मीटिंग हुई थी. इसमें ढाई साल वाले फॉमूले पर भी चर्चा हुई बताई जा रही है. हालांकि किसी ने भी इस पर खुलकर कुछ नहीं कहा था लेकिन पार्टी के अंदर इसको लेकर चर्चाओं का बाजार काफी गरम रहा था.

सिंहदेव ने परिवर्तन को लेकर दिया था बड़ा बयान
उसके बाद दिल्ली से लौटने पर मंत्री टीएस सिंहदेव ने बड़ा बयान देते हुये कहा था कि उन्होंने जीवन में एक ही चीज स्थायी तौर पर देखी है और वह है परिवर्तन. सिंहदेव ने कहा कि हाइकमान ने सारी बातें संज्ञान में ली हैं और उन्होंने अपना फैसला सुरक्षित कर लिया है. उन्होंने बताया था कि आलाकमान से खुले मन से बातचीत हुई है और वे जल्द ही निर्णय लेंगे.

छत्तीसगढ़ में चर्चा में है ढाई-ढाई साल का फॉर्मूला
उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ राज्य में ढाई-ढाई साल के फॉर्मूले के तहत मुख्यमंत्री बदलने की चर्चा इन दिनों काफी जोरों पर है. गत 24 अगस्त को दिल्ली में हुई बैठक में छत्तीसगढ़ के तीनों नेताओं के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे. उसके बाद अब पंजाब में अमरिंदर सिंह के सीएम पद से इस्तीफे के बाद छत्तीसगढ़ में भी राजनीतिक हलचलें बढ़ी हुई हैं. लोगों की नजरें अब छत्तीसगढ़ के राजनीतिक परिदृश्य और आलाकमान के फैसले पर टिकी है.

Leave a Reply