bhopal-heavy-rain

MP Weather Alert: भारी बारिश के आसार, 6 संभागों में यलो अलर्ट जारी

प्रदेश, मध्य प्रदेश, मुख्य समाचार

LAST UPDATED : 

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में एक बार फिर मानसून (Monsoon) ने रफ्तार पकड़ ली है. मौसम विभाग (IMD) का कहना है कि प्रदेश में 5 मानसूनी सिस्टम सक्रिय हैं. इनके चलते आने वाले 24 घंटों के दौरान 6 संभागों के जिलों में भारी बारिश की संभावना है. इन संभागों में मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है. आने वाले 2 से 3 दिनों तक प्रदेश के ज्यादातर जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी रहेगा. मानसून की विदाई से दो और सिस्टम सक्रिय होने की संभावना है. इससे बारिश का कोटा पूरा होने की उम्मीद है. इसके बावजूद 34 जिले सूखे की कगार पर हैं.

मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 2 से 3 दिनों तक प्रदेश के ज्यादातर जिलों में तेज बारिश होगी. विभाग ने 6 संभागों जबलपुर, रीवा, भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर और उज्जैन के जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है. नरसिहपुर, छिंदवाड़ा, बैतूल, खरगोन, धार, बड़वानी, अलीराजपुर, झाबुआ, रतलाम, उज्जैन, देवास और अलीराजपुर जिलों में भारी बारिश की संभावना है.

इतने सिस्टम हैं एक्टिव

मौसम विभाग का कहना है कि फिलहाल प्रदेश में 5 मानसूनी सिस्टम सक्रिय हैं. इसीके चलते आने वाले 3 से 4 दिनों तक लगातार भारी बारिश की संभावना है. बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र गहरे कम दबाव के क्षेत्र में बदल रहा है. यह सिस्टम उत्तरी और दक्षिणी उड़ीसा कॉस्ट पर सक्रिय है. इस सिस्टम के उत्तरी पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है. मानसून टर्फ लाइन बीकानेर, कोटा, इंदौर, भोपाल, ओडिशा से लेकर बंगाल की खाड़ी में बने गहरे कम दबाव के क्षेत्र तक जा रही है. इसी तरह राजस्थान और उसके आसपास के ऊपरी भाग में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है. महाराष्ट्र में सियरजोन बन रहा है. कच्छ में हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात बना हुआ है. इन पांचों वेदर सिस्टम के सक्रिय होने से प्रदेश के ज्यादातर जिलों में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा.

34 जिले अभी भी सूखे की कगार पर

 

प्रदेश में भले ही मानसूनी गतिविधियां शुरू हो गई हैं. लेकिन, 1 जून से लेकर 7 सितंबर तक प्रदेश में सामान्य से 8% बारिश कम हुई है. प्रदेश के 34 जिले सामान्य बारिश से दूर हैं. अनूपपुर 6 फीसदी, बालाघाट 39 फीसदी, छतरपुर 26 फीसदी, छिंदवाड़ा 14 फीसदी, दमोह 47 फीसदी, डिंडोरी 17 फीसदी, जबलपुर 45 फीसदी, कटनी 38 फीसदी, मंडला 25 फीसदी, नरसिंहपुर 21 फीसदी, पन्ना 39 फीसदी, सतना 20 फीसदी, सिवनी 20 फीसदी, शहडोल 7 फीसदी, टीकमगढ़ 8 फीसदी, उमरिया 20 फीसदी, अलीराजपुर 16 फीसदी, बड़वानी 16 फीसदी, भोपाल 6 फीसदी, बुरहानपुर 2 फीसदी, दतिया 16 फीसदी, देवास 10 फीसदी, धार 33 फीसदी, ग्वालियर 9 फीसदी, हरदा 23 फीसदी, होशंगाबाद 27 फीसदी, इंदौर 24 फीसदी, झाबुआ 17 फीसदी, खंडवा 7 फीसदी, खरगोन 28 फीसदी, मुरैना 16 फीसदी, राजगढ़ 7 फीसदी, रतलाम 7 फीसदी, सीहोर 18 फीसदी कम बारिश की मार झेल रहे हैं.

 

मौसम विभाग के मुताबिक, बीते 24 घंटे रीवा में 5 मिमी, रतलाम में 3 मिमी, पचमढ़ी में 2 मिमी, धार में 2 मिमी, गुना में 2 मिमी, भोपाल में 1.6 मिमी, दमोह में 1.0 मिमी, होशंगाबाद में 1 मिमी, सतना में 0.6 मिमी, इंदौर में 0.4 मिमी, जबलपुर में 0.2 मिमी, उज्जैन में 0.2 मिमी, बैतूल में 0.2 मिमी, टीकमगढ़ में 16 मिमी, मलाजखंड में 11 मिमी, भोपाल सिटी में 3.1 मिमी बारिश हुई.

Leave a Reply