indian-railways-innovative-idea-transports-chocolates

चॉकलेट से भरी ट्रेन चली गोवा से दिल्ली, रेलवे की अनूठी पहल

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय, व्यापार

Updated: 10 अक्टूबर, 2021,

हुबली (कर्नाटक):  दक्षिण पश्चिम रेलवे (South Western Railway) की हुबली डिविजन ने शुक्रवार को पहली बार एसी कोचों का उपयोग करते हुए चॉकलेट (Chocolates) और अन्य खाद्य पदार्थों का परिवहन किया. इनके परिवहन के दौरान कम और नियंत्रित तापमान की आवश्‍यकता होती है. 8 अक्टूबर को गोवा के वास्को डी गामा से दिल्ली (Goa to New Delhi) के ओखला के लिए रवाना ट्रेन के 18 वातानुकूलित डिब्बों में 163 टन वजन की चॉकलेट और नूडल्स लदे थे. यह एवीजी लॉजिस्टिक्स की खेप थी. भारतीय रेलवे की इस पहल को सफलता मिलने के साथ आगे भी शुरू करने की तैयारी है.

दक्षिण पश्चिम रेलवे द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार, यह एसी पार्सल एक्सप्रेस ट्रेन 2115 किलोमीटर की दूरी तय करेगी. इससे रेलवे को 12.83 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है.

हुबली मंडल की व्यवसाय विकास इकाई (बीडीयू) के के मार्केटिंग प्रयासों से इस नई धारा को रेलवे ने पकड़ लिया है जिसे पारंपरिक रूप से सड़क मार्ग से ले जाया जाता था.

बीडीयू के प्रयासों की सराहना करते हुए, हुबली मंडल रेल प्रबंधक अरविंद मलखेड़े ने कहा कि रेलवे रेल सेवाओं का उपयोग करने के लिए सक्रिय रूप से ग्राहकों तक पहुंच रहा है जो तेज, आसान और लागत प्रभावी सेवाएं हैं.

उद्योगों और व्यापारियों द्वारा इसकी सराहना की जा रही है. अक्टूबर 2020 से हुबली डिवीजन की मासिक पार्सल कमाई 1 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर रही है. सितंबर 2021 के दौरान हुबली डिवीजन की पार्सल कमाई 1.58 करोड़ रुपये है.  चालू वित्त वर्ष के दौरान सितंबर 2021 तक डिवीजन की कुल पार्सल कमाई 11.17 करोड़ रुपये है.

Leave a Reply