haryana-gharaunda-air-is-cleanest-in-north-india

दिल्ली से केवल 100 किमी दूर इस जगह की हवा है दुनिया में सबसे स्वच्छ!

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय, लाइफस्टाइल, स्वास्थ्य

LAST UPDATED : 

Delhi Air Quality Index: दिवाली के अगले दिन यानी शुक्रवार को दिल्ली सहित उत्तर भारत के अधिकतर शहर एक बार फिर बुरी तरह से जहरीली हवाओं की चपेट में हैं. दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तमाम शहरों में हवा बेहद जहरीली हो चुकी है. शुक्रवार सुबह में दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) लेवल 524 था जो दुनिया में सबसे ज्यादा है. दिल्ली आज दुनिया में सबसे प्रदूषित हवा वाला शहर है. यह लेवल बेहद जहरीली हो चुकी हवा का संकेत दे रहा है.

 

कहां की हवा है स्वच्छ
ऐसा नहीं है कि दिवाली के अगले दिन पूरे देश का हाल यही है. देश में कई ऐसे शहर हैं जहां का हवा दिल्ली की हवा से करीब 150 गुना से कम प्रदूषित हैं. इन शहरों में एक्यूआई लेवल इकाई अंक में हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि ये शहर कहां हैं.

 

आज सबसे स्वच्छ हवा वाला शहर
वेबसाइट iqair.com के मुताबिक आज उत्तर भारत खासकर दिल्ली और आसपास के इलाकों में जहां एक्यूआई का लेवल जहरीले स्तर पर पहुंच गया है वहीं दक्षिण भारत के तमाम शहरों में हवा बेहद साफ है. तमिलनाडु के मदुरै शहर में शुक्रवार सुबह का एक्यूआई लेवल केवल 3 है. यह एक ऐसा लेवल है जिसके बारे में कहा जा सकता है कि वहां की हवा में बिल्कुल प्रदूषण नहीं है. इसके अलावा तमिलनाडु के ही शिवकाशी में एक्यूआई लेवल केवल 15, कर्नाटक के कोप्पल में 24 है. शुक्रवार को देश के सबसे स्वच्छ 10 शहरों में से 9 शहर तमिलनाडु और कर्नाटक हैं.

दिल्ली से 100 किमी दूर यहां की हवा सबसे स्वच्छ
आपको हैरानी हो रही होगी कि दिल्ली और आसपास के राज्य जब जहरीली हवाओं की चपेट में हैं तो यह कहां राजधानी के इतने पास कैसे हो सकती है. लेकिन सच यह है कि दिल्ली के लगे हरियाणा के करनाल जिले में एक ऐसी जगह है जहां आज दिवाली के अगले दिन का एक्यूआई लेवल केवल 13 है. यह एक कस्बा है जिसका नाम है घरौंदा. यह कस्बा पानीपत और करनाल के बीच में है. यहां भौगोलिक स्थिति ऐसी है कि यहां अक्सर तेज हवाएं चलती हैं.

हिंदी भाषी राज्यों में यहां का हवा सबसे स्वच्छ
अगर आप दिल्ली और आसपास के इलाके में रहते हैं तो अपनी वीकेंड की छुट्टियां बिताने आपसाप के पड़ोसी राज्यों में जा सकते हैं. दिल्ली के करीब 600 किमी दूर मध्य प्रदेश के कई शहरों में आज हवा काफी स्वच्छ है. इसी तरह राजस्थान में राजधानी जयपुर और उसके आसपास के इलाकों को छोड़कर जोधपुर और उससे लगे इलाकों में हवा काफी स्वच्छ है.

 

मध्य प्रदेश में कई जगह हवा स्वच्छ
मध्य प्रदेश के सागर जिले का एक्यूआई लेवल उत्तर भारत में सबसे कम है. यहां का एक्यूआई लेवल केवल 42 है. वहीं राज्य के रतलाम और नीमच जैसे जिलों में एक्यूआई लेवल 100 से कम है, जिसे सांस लेने योग्य हवा कहा जा सकता है. सतना जिले में भी एक्यूआई लेवल 75 के आसपास है.

Leave a Reply